रेलवे खान पान वेण्डरो की अनदेखी बर्दाश्त नहीं..गोपाल जायसवाल

रेलवे खान पान वेण्डरो की अनदेखी बर्दाश्त नहीं..गोपाल जायसवाल












गोण्डा...अखिल भारतीय खानपान एजेंसी वेलफेयर एसोसिएशन के राष्ट्रीय महासचिव गोपाल जायसवाल ने वेंडरों के हित के लिए उठाई मांग । भारत में जहां एक तरफ लाकडाउन की मार तमाम छोटे-मोटे व्यापारियों को उठानी पड़ रही है वहीं दूसरी ओर रेल विभाग में कार्यरत खानपान वेंडर जिनकी संख्या लगभग 13:5लाख है को भी अपने रोजी रोटी को लेकर तमाम कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है ।

तमाम वेण्डर भुखमरी और भिक्षा मांगने के कगार पर हैं वहीं तमाम कुछ तो रिक्शा चलाने से लेकर सब्जी बेचने के कार्य में लग गए लेकिन उन्हें वहां भी करोना काल में सफलता नहीं मिल रही ।

उक्त बातें अखिल भारतीय खानपान वेल फेयर के राष्ट्रीय सचिव गोपाल. जायसवाल ने कहते हुए केंद्र सरकार से मांग उठाई कि विगत वर्ष दिए गए मांग पत्र में वेण्डरों को भी राहत  के आधार पर कुछ आर्थिक सुविधा मुहैया कराई जाऐ.जो आज तक पूरा नहीं हो सका।


 इस  दौरान स्टेशनों पर कार्य करने वाले खान पान.बिक्रेताओं को भुखमरी की कगार पर आना पड़ रहा है इतना नहीं नहीं श्री जायसवाल ने यह भी कहा कि गोंडा जंक्शन समेत मंडल के रेल परामर्श दात्री पंकज श्रीवास्तव के द्वारा हम ने रेल मंत्रालय तक अपनी बात पहुंचाने की कई बार कोशिश की उसके बावजूद आज तक हमारे वेंडरों को कोई लाभ मुहैया नहीं हो सका ।

ज्ञात हो कि जहां एक तरफ स्थानीय प्रशासन तमाम लोगों को राहत पैकेज के साथ ही क्षेत्रीय विधायक ने राहत सामग्री उपलब्ध कराई लेकिन हमारे स्टेशनों पर कार्य खान.पान बिक्रेताओं को कोई लाभ नहीं मिल सका जिससे परेशान अखिल भारतीय खानपान वेलफेयर ने केंद्र सरकार प्रदेश सरकार के साथ ही स्थानीय विधायक से हम मांग करते हैं कि वह रेलवे स्टेशनों पर कार्यरत वेंडरों की ओर अपना ध्यान केंद्रित करें और उन्हें भी आर्थिक सहयोग प्रदान करें जिससे भुखमरी की कगार पर पहुंच चुके ऐसे लोगों को भी राहत मिल सके।

Post a Comment

0 Comments