उतरौला , यूपी चालीसवे की मजलिस का हुआ आयोजन

उतरौला , यूपी





 चालीसवे की मजलिस का हुआ आयोजन 


 रविवार को उतरौला के ग्राम अमया देवरिया में मरहूम नैय्यर हुसैन जैदी एडवोकेट के चालीसवें की मजलिस का आयोजन  उतरौला चुंगी नाका स्थित उनके आवास व्हाइट हाउस पर किया गया। 

मजलिस को लखनऊ से आए हुए शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे जव्वाद ने ख़िताब किया।

मजलिस के पूर्व मौलाना जायर अब्बास,  अजीम हल्लोरी, शुजा उतरौली,  इरफान हैदर, रमजान अली ने अपने बेहतरीन कलाम पेश किये।

मजलिस को ख़िताब करते हुए मौलना कल्बे जव्वाद ने कहा कि 
 किसी की मदद और दिए गए दान आपकी नियत पर निर्भर करता है। दिखावा इस्लाम बिल्कुल पसंद नहीं करता है।
उन्होंने कुराने पाक की फजीलत को बयान करते हुए कहा कि जिस तरह अल्लाह की किताब में कही गई तमाम बातें आज पूरी हो रही है। उसी तरह कुराने पाक की यह बात पूरी होगी कि दुनिया के लाख जुल्मों सितम के बावजूद मजहबे इस्लाम हमेशा जिंदा और सलामत रहेगा और एक दिन सारे संसार पर छा जायेगा।
 उन्होंने कहां की किसी दौर में कुरान के विरुद्ध दुश्मनों कि कोई चाल कामयाब नहीं हुई है और इंशा अल्लाह इस बार भी नहीं होगी।
 बातिल किसी भी भेष में  आए हक के सामने उसके कदम नहीं रुकेंगे।
बस हमें मोहम्मद और आले मोहम्मद के बताए हुए रास्ते पर चलते रहना चाहिए।
 अंत में उन्होंने कर्बला के शहीदों का जिक्र किया तो हर आंखें नम हो गई

इस अवसर पर मौलाना मोहम्मद अली, फ़हमीद रजा, हसन मेहंदी,अली सज्जाद,रिज़वानुल हसन, नासिर जैदी, हसनैन आब्दी, रईस मेहंदी,अंसार हुसैन सहित भारी संख्या में लोग मौजूद रहे फखरपुर की आवाज़ के लिए वाजिद हुसैन

Post a Comment

0 Comments