कैसरगंज थाना क्षेत्र में बंदूकों से हो रहा नीलगायों का शिकार

कैसरगंज थाना क्षेत्र में बंदूकों से हो रहा नीलगायों का शिकार

जनपद बहराइच के विकासखंड कैसरगंज के अंतर्गत ग्राम सभा नत्थनपुर के पूर्व दिशा में नीलगाय का शव मिला, जिसके पेट पर गोली का निशान साफ यह बयां कर रहा है कि थाना कैसरगंज के क्षेत्र में कहीं ना कहीं प्रशासन की घोर लापरवाही झलक रही है| जिससे वन्य जीवों पर अत्याचार बढ़ता जा रहा है|यह जानकारी ग्राम वासियों को सुबह उस समय प्राप्त हुई जब कुत्तों के भौंकने की आवाजें बहुत तीव्र हो गई, वहां पर जाकर देखा गया की नीलगाय का मृत्यु शव का पिछला हिस्सा कुत्तों और सियारो ने क्षत विक्षत  कर दिया था|इसकी सूचना थाना कैसरगंज और वन विभाग को देने पर मौके पर पहुंचे वन विभाग कर्मियों से जब यह जाना गया कि यह पेट में छिद्र का निशान गोली का है तो वहां पर उपस्थित कर्मचारियों ने इस बात को स्वीकार किया कि हां यह गोली का ही निशान है जब उनको यह ज्ञात हुआ कि यह संवाददाता है तो वह इस बात से थोड़ा हिचकिचाने  लगे और यह कहने लगे कि कुत्तों ने नोच दिया है इसलिए इस बात को स्पष्ट करना थोड़ा सा कठिन है| लेकिन निशान चित्र में साफ-साफ ए बयां कर रहा है कि यह बंदूक की गोली का निशान है| वहां पर उपस्थित कर्मियों के हिचकिचाने से यह बात साफ होती है कि यहां पर स्थानीय प्रशासन को सजगता बरतने की कोई परवाह नहीं है बल्कि जो भी घटनाएं होती हैं उस पर पर्दा करने पर ही विचार विमर्श किया जाता रहता है | यदि ऐसी घटनाओं पर इसी तरीके से पर्दा डाला गया तो ऐसी घटनाएं ही शिकारियों के मनोवृति को बढ़ावा देती है|

Post a Comment

0 Comments