केला के उत्पादक से किसान बनाना राइपनिंग चैम्बर से तैयार कर रहे गुणवत्ता युक्त केला

केला के उत्पादक से किसान बनाना राइपनिंग चैम्बर से तैयार कर रहे गुणवत्ता युक्त केला
फखरपुर की आवाज़
बहराइच। प्रगतिशील कृषक गुलाम मोहम्मद ने केला प्रस्संकरण (बनाना राइपनिंग चैम्बर) से तैयार किया गया केला जिलाधिकारी के शिविर कार्यालय पर जिलाधिकारी शम्भु कुमार को भेंट किया। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने प्रगतिशील किसान गुलाम मोहम्मद को बधाई देते हुए उन्नत शील खेती के लिए किये गये प्रयासों की सराहना की। इस अवसर पर जिला उद्यान अधिकारी पारसनाथ भी मौजूद रहे। जिला उद्यान अधिकारी, ने बताया कि जनपद बहराइच में केला उत्पादन व्यापक पैमाने पर होता है। यहाॅ पर लगभग 5500 है0 क्षेत्रफल मे केले का उत्पादन किया जा रहा है और प्रति वर्ष केला उत्पादन क्षेत्र में वृद्धि हो रही है। गुलाम मोहम्मद, निवासी ग्राम-जरवल कस्बा, वि0ख0-जरवल, जनपद-बहराइच केले के प्रगतिशील कृषक हैं। उद्यान विभाग, बहराइच द्वारा सन् 2000 में केले के 270 पौधे खण्ड प्रदर्शन के रूप में दिया गया था। तभी से उनकी केले के खेती के प्रति रूचि बढ़ी और परिणामस्वरूप आज उनके द्वारा 36.00 एकड़ में केला का उत्पादन किया जा रहा है। पहले उनके द्वारा दिल्ली व आस-पास के प्रदेशों में केला बेचा जाता था। परन्तु इस वर्ष उन्होने केला प्रसंस्करण (बनाना राइपनिंग चैम्बर) भी स्थापित कर लिया है। रू0-40 लाख की लागत से निर्मित इसके पास कुल 04 चैम्बर हैं, जिसकी क्षमता 320.00 कुन्तल है। इसे इथलीन गैस द्वारा पकाया जाता है जो कि स्वास्थ्य के लिए हानिकारक नही हैं। इससे फलों की गुणवत्ता में वृद्धि होती है। श्री मोहम्मद द्वारा बताया गया कि केले की खेती से लगभग रू0-40.00 लाख प्रति वर्ष की आय होगी। अब इनके द्वारा उत्पादित केला स्वयं पकाकर बेचा जा रहा है तथा आस-पास के कृषक भी उत्साहित होकर राइपनिंग चैम्बर में पका रहें हैं। जिससे आस-पास के क्षेत्रों में केला क्षेत्र में वृद्धि होने की सम्भावना है।

Post a Comment

0 Comments