कोविड-19 के संक्रमण के बचाव हेतु व्यापक स्तर पर जन-जागरूकता कार्यक्रम चलायें: अनीता सिंह**होम आईसोलेशन में रह रहे मरीज़ों से नियमित संवाद स्थापित किया जाय

कोविड-19 के संक्रमण के बचाव हेतु व्यापक स्तर पर जन-जागरूकता कार्यक्रम चलायें: अनीता सिंह*
*होम आईसोलेशन में रह रहे मरीज़ों से नियमित संवाद स्थापित किया जाय
 
बहराइच 30 सितम्बर। कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम तथा बचाव के लिए की गयी व्यवस्थाओं की समीक्षा के लिए कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए नोडल अधिकारी प्रमुख सचिव खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन उत्तर प्रदेश शासन श्रीमती अनीता सिंह ने निर्देश दिया कि कन्टेनमेन्ट ज़ोन के लिए शासन द्वारा निर्धारित गाइडलाइन तथा सुरक्षात्मक प्रोटोकाल का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराया जाय। होम आईसोलेशन में रह रहे मरीज़ों के साथ नियमित संवाद कायम रखकर उनके स्वास्थ के बारे में जानकारी प्राप्त की जाय तथा उनके पास आक्सीमीटर की उपलब्धता अनिवार्य रूप से सुनिश्चित करायी जाय।
नोडल अधिकारी ने निर्देश दिया कि होर्डिंग, पम्प्लेट आदि के माध्यम से जनपद में व्यापक स्तर पर जन जागरूकता कार्यक्रम संचालित कर कोविड के संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के लिए लोगो को जागरूक किया जाय। साथ ही यह भी सुनिश्चित कराया जाय कि सभी लोग मास्क के प्रयोग के साथ कोविड-19 के सुरक्षात्मक प्रोटोकाल का पालन अवश्य करें। महाराजा सुहेल देव स्वशासी राजकीय मेडिकल कालेज के प्राचार्य को निर्देश दिया कि अपने स्तर से नियमित समीक्षा करते हुए कोविड-19 अस्पतालों की व्यवस्था चाक-चैबन्द रखी जाय और सभी आवश्यक उपकरणों को स्थापित कराते हुए उसकी क्रियाशीलता भी सुनिश्चित करायी जाय ताकि कोविड के मरीजों को किसी प्रकार की समस्या न हो
नोडल अधिकारी ने यह भी निर्देश दिया कि दुकानदारों के लिए मास्क के उपयोग की अनिवार्यता को लागू कराया जाय। इसके लिए सम्बन्धित अधिकारी रैण्डमली प्रतिष्ठानों का निरीक्षण कर यह सुनिश्चित करायें कि सभी दुकानदार अनिवार्य रूप से मास्क का प्रयोग करें। इसके अलावा कार्यालयों में भी मास्क के प्रयोग तथा मानक के अनुसार सुरक्षात्मक प्रोटोकाल का अनुपालन सुनिश्चित कराया जाय। श्रीमती सिंह ने निर्देश दिया कि एण्टीबाडी व रैण्डमली टेस्टिंग को भी बढ़ाया जाय। नोडल अधिकारी ने दवाओं की उपलब्धता बनाये रखने के साथ-साथ आवश्यक चिकित्सकीय उपकरणों को भी क्रियाशील रखे जाने का निर्देश दिया।
बैठक के दौरान नोडल अधिकारी ने जनपद में कोविड-19 संक्रमण की स्थिति, पाॅज़िटिव मरीज़ों के उपचार की व्यवस्था, होम आईसोलेशन, एल-1 व एल-2 फैसिलिटी, निगरानी समितियों के कार्यों, सम्पर्कों व अन्य की रैण्डम जाॅच, आरटीपीसीआर, ट्रू-नाट व एंटीजन द्वारा जाॅच की स्थिति, उपकरणों की उपलब्धता एंव क्रियाशीलता, कन्टेनमेन्ट ज़ोनों की व्यवस्था इत्यादि की गहन समीक्षा कर सम्बन्धित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिया। 
इस अवसर पर जिलाधिकारी शम्भु कुमार, पुलिस अधीक्षक डाॅ. विपिन कुमार मिश्र, मुख्य विकास अधिकारी कविता मीना, मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ. सुरेश सिंह, महाराजा सुहेल देव स्वशासी राजकीय मेडिकल कालेज के प्राचार्य डाॅ. अनिल के साहनी, जिला विकास अधिकारी राजेश कुमार मिश्र, सीएमएस डा. डी. के. सिंह, जिला अर्थ एवं सख्या अधिकारी अर्चना सिंह, डिप्टी सीएमओ डा. अनिल कुमार, अस्पताल प्रबन्धक रिजवान अली, कोविड-19 नोडल डाॅ. ओ.पी. पाण्डेय सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे। 
                    :ःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःः
*गाॅधी जयन्ती के अवसर पर आयोजित किये जायेंगे विविध कार्यक्रम* 
बहराइच 30 सितम्बर। गाॅंधी जयन्ती के अवसर पर 02 अक्टूबर 2020 को जनपद में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे। जिलाधिकारी की ओर से जारी आदेश के अनुसार गाॅधी जयन्ती समारोह का शुुभारम्भ प्रातः 06ः30 बजे बच्चों की प्रभातफेरी से होगा और इसी समय फिट इण्डिया फ्रीडम के माध्यम से जीपीएस ट्रेकर को आन कर क्रास कंट्री दौड़ का आयोजन होगा। प्रातः 08ः00 बजे राजकीय भवनों पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया जायगा तत्पश्चात सभी कार्यालयों, विद्यालयों और दूसरी संस्थाओं के किसी बड़े कक्ष/हाल में महात्मा गाॅंधी जी के चित्र का अनावरण व माल्यार्पण किया जायेगा।
गाॅधी जयन्ती के अवसर पर आयोजित होने वाले कार्यक्रमों में प्रातः 09ः30 बजे जनपद के शहरी क्षेत्रों, नगर पंचायतों एवं गाॅवों में अधिकारियों/कर्मचारियों द्वारा मलिन बस्ती में सफाई एवं स्वच्छता के कार्यक्रम संचालित किये जायेंगे। इसके अलावा कोविड-19 की जांच एवं सेनेटाइजेशन का भी कार्य किया जाय। 
अधिशासी अधिकारी नगर पालिका एवं नगर पंचायत अपने-अपने क्षेत्र स्थित एक-एक मलिन बस्ती तथा जिला पंचायत राज अधिकारी प्रत्येक विकास खण्ड स्थित एक-एक मलिन बस्ती का चिन्हींकरण कर पूर्ण स्वच्छता एवं सफाई करायेंगे। 
प्रातः 10ः00 बजे कुष्ठ आश्रम/चिकित्सालय में कुष्ठ रोगियों की पहचान,, चिकित्सा एवं कल्याण सम्बन्धी कार्यक्रम तथा राजकीय बालिका इण्टर कालेज एवं पूर्व माध्यमिक विद्यालय पुलिस लाईन में छात्रों एवं छात्राओं द्वारा आज के परिप्रेक्ष्य में महात्मा गाॅधी जी के जीवन से सम्बन्धित चित्रकला एवं उनके विचारों की प्रतियोगिता, तारा गल्र्स इण्टर कालेज में छात्राओं द्वारा वाद-विवाद प्रतियोगिता तथा गाॅधी इण्टर कालेज में वर्तमान परिवेश में सत्य एवं अहिंसा का महत्व विषयक निबन्ध तथा गाॅधी जी के विचारों की प्रासंगिकता विषयक वाद विवाद प्रतियोगिता आयोजित की जायेगी। 
इसी प्रकार प्रातः 10ः00 बजे कलेक्ट्रेट परिसर स्थित स्वतन्त्रता संग्राम सेनानी विश्राम कक्ष में महात्मा गाॅंधी जी के विचारों एवं आदर्शांे के सम्बन्ध में विचार गोष्ठी तथा पीपल चैराहा स्थित श्री गाॅधी आश्रम में चरखा द्वारा सूत कातने की प्रतियोगिता एवं पुरस्कार वितरण तथा खादी एवं अन्य स्वदेशी वस्तुओं के उत्पादन एवं उनके प्रयोग तथा बिक्री को प्रोत्साहित करने हेतु गोष्ठी आयोजित की जायेगी। गाॅंधी जयन्ती के अवसर पर जेल में भी प्रेरणादायक कार्यकमों का आयोजन किया जायेगा। 
इसके अतिरिक्त गाॅंधी जयन्ती के पुनीत अवसर पर ग्राम पंचायतों में गोष्ठी आयोजित होंगी जिसमें महात्मा गाॅंधी जी के विचारों एवं आदर्शों पर प्रकाश डाला जायेगा तथा विकास सम्बन्धी शासन की प्राथमिकताओं से जन-सामान्य को अवगत कराते हुए उन्हें अपेक्षित सहयोग के लिए प्रेरित किया जायेगा। बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि तहसील/विकास खण्ड क्षेत्र अन्तर्गत किसी एक गाॅव मंे उप जिलाधिकारी और खण्ड विकास अधिकारी भी सम्मिलित होंगे। सुविधा को देखते हुए स्वतन्त्रता संग्राम सेनानियों को भी कार्यक्रमों में आमंत्रित किया जायेगा। कोविड-19 के संक्रमण के रोकथाम के लिए निर्धारित सुरक्षा प्रोटोकाल का पालन करते हुए कार्यक्रमों का आयोजन किया जाय। कार्यक्रम के दौरान सोशल डिस्टेन्सिंग व मास्क के प्रयोग तथा कोविड-19 के अन्य सुरक्षात्मक प्रोटोकाल का पालन अवश्य हो। 
                          :ःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःः
*आयुष्मान भारत योजना के गोल्डेन कार्ड की प्रगति में लायंे अपेक्षित सुधार - जिलाधिकारी* 
*लापरवाह एवं उदासीन स्वास्थ्य वर्करों की सूची उपलब्ध कराने के निर्देश*

बहराइच 30 सितम्बर। जिलाधिकारी शम्भु कुमार द्वारा मंगलवार को देर शाम शिविर कार्यालय पर आयुष्मान भारत, प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना की सबसे कम प्रगति वाले पांच सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में गोल्डेन कार्ड की प्रगति, लैपटाप व प्रिन्टर के साथ इण्टरनेट की सुविधा, योजना के प्रति उदासीन एवं लापरवाह आशाओं पर कार्यवाही से सम्बन्धित बिन्दुओं की समीक्षा की गयी। विकास खण्ड बलहा द्वारा 01 सितम्बर से 29 सितम्बर तक मात्र 16 कार्ड बनाये जाने की स्थिति पर जिलाधिकारी ने चेतावनी देते हुए निर्देश दिया कि अतिरिक्त आपरेटर लगाकर प्रतिदिन 250 गोल्डेन कार्ड निर्गत कराये जाने की कार्यवाही की जाय। 
विकास खण्ड चित्तौरा द्वारा माह सितम्बर में कुल 33 गोल्डेन कार्ड बनाये जाने की स्थिति पर कड़ी अप्रसन्नता व्यक्त करते हुए आशावार लक्ष्य निर्धारित कर एक सप्ताह में अपेक्षित प्रगति लाये जाने के निर्देश दिये। साथ ही उन्होनें यह भी निर्देश दिया कि लापरवाह एवं उदासीन स्वास्थ्य वर्करों की सूची उपलब्ध कराये ताकि उनके विरुद्ध नियमानुसार कार्यवाही की जाय। जिलाधिकारी ने शिवपुर, पयागपुर के आयुष्मान मित्रों का कार्य संतोष जनक न पाये जाने पर सेवा समाप्ति की नोटिस निर्गत किये जाने का भी निर्देश दिया। जबकि तेजवापुर व अर्बन के अधीक्षक व बीसीपीएम को निर्देश दिया गया कि आयुष्मान मित्र के साथ बेहतर तालमेल एवं समन्वय के साथ प्रतिदिन गोल्डेन कार्ड बनवाने की कार्यवाही की जाय। उपचार में जनपद की दो सीएचसी कैसरगंज व विशेश्वरगंज को प्रदेश मे ंपहला व दूसरा स्थान प्राप्त हुआ है। इसके अलावा टापटेन में सीएचसी हुजूरपुर 8वें , फखरपुर व चर्दा को 9वां स्थान प्राप्त हुआ है। अब तक जनपद के 8545 मरीजों का योजना के तहत लाभान्वित किया गया है तथा इस माह 3610 कार्ड निर्गत किये गये हैं। 
इस अवसर पर स्वास्थ्य केन्द्रों के प्रभारी चिकित्साधिकारी, डीएचईआईओ, बीसीपीएम, आयुष्मान मित्र, आयुष्मान भारत के जिला डिस्ट्रीक इन्फार्मेशन सिस्टम मैनेजर व अन्य सम्बन्धित लोग मौजूद रहे।

ःःःःःःःःःःःःःःःःःःः

Post a Comment

0 Comments