युवक पर गड़ासे से वार कर उतारा मौत के घाट.

मोहम्मद इरफान
करनैलगंज(गोंडा)। बुधवार की देर शाम स्थानीय कोतवाली क्षेत्र के ग्राम रेवारी निवासी सलीम 40 वर्ष पुत्र लाल मोहम्मद की गांव के बाहर रानी बगिया में धारदार  हथियार बांके से गला काट कर हत्या कर दी गई। बताया जाता है कि सलीम का घर गांव में था। वह टीवी का मरीज था। गांव के बाहर स्थित एक बाग जिसको रानी बगिया के नाम से जाना जाता है उसमें बनी एक मजार के बगल में छप्पर रख कर रहता था। छप्पर के पास ही उसकी हत्या की गई। हत्या की सूचना मिलने के बाद गांव में सनसनी फैल गई। गांव वालों ने बताया कि घटना की जानकारी देने के लिए स्थानीय कोतवाली के मोबाइल नम्बरों पर काल करते रहे मगर फोन पर सम्पर्क नही हो सका । इसके बाद घटना की सूचना डायल 100 पर दी गयी। जिस पर घटना स्थल पर पहुचे डायल 100 पुलिस कर्मियो की सूचना पर स्थानीय पुलिस घटनास्थल पर  पहुंच सकी। घटना के बाद से परिजनों में कोहराम मचा हुआ है। तो वही सरेशाम इस घटना को लेकर पूरे इलाके में दहशत का माहौल है। सूचना के बाद मयफोर्स पहुंचे कोतवाल राजेश कुमार सिंह ने आला अधिकारियों को सूचित किया। जिसपर सीओ व अपर पुलिस अधीक्षक भी पहुंचे। उसके बाद मौके पर कई थानों की पुलिस सहित फोरेंसिक टीम, डॉग स्कॉड व एसओजी की टीमो को भी बुलाया गया। टीम ने फोरेंसिक नमूने लिए तथा डॉग स्क्वायड टीम काफी देर तक प्रयास करती रही। सीओ सहित जिले से एएसपी  व एसपी देर रात तक गांव में जमे रहे। पुलिस हत्या के कारणों व हत्यारे की गहनता से तालाश में जुट गई है। एसपी आरपी सिंह ने बताया कि सारे तथ्यो को गहनता से खंगाला जा रहा है। हर पहलू को ध्यान में रखकर जांच की जा रही है। जांच के लिए स्वाट टीम, सीओ व कोतवाल करनैलगंज को लगाया गया है। मौके से घटना में प्रयुक्त बांका बरामद किया गया है। घटना की तहरीर मृतक सलीम के साले अजमल हुसैन पुत्र मोहम्मद सईद निवासी ग्राम तमंचेपुर थाना कटरा बाजार की तरफ से पुलिस को मिली जिसपर पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज किया है। जिसमे शक के आधार पर रेवांरी गांव के ही जानअली को नामजद किया गया। जिसपर पुरानी रंजिस में हत्या का शक जाहिर किया गया है।

Post a Comment

0 Comments