अखिलेश श्रीवास्तव
लखनऊ।बहराइच में शासन की प्राथमिकता वाले 70 सूत्रीय कार्यक्रमों की मासिक समीक्षा के लिए वृहस्पतिवार को देर शाम कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी शम्भु कुमार ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिया कि चिकित्सकों की उपस्थिति सुनिश्चित कराने के लिए उप मुख्य चिकित्साधिकारियों का रूट चार्ट निर्धारित करें साथ ही निरीक्षण की शिथिल कार्यवाही के लिए डिप्टी सीएमओ को नोटिस जारी किया जाय। डीएम ने उपस्थिति के लिए स्वास्थ्य केन्द्रों पर स्थापित बायोमैट्रिक व्यवस्था को आनलाइन कराएं जाने का निर्देश देते हुए सीडीओ व डीडीओ से व्यवस्था का सत्यापन कर रिपोर्ट देने को कहा। जिलाधिकारी ने स्पष्ट निर्देश दिया कि लम्बी अवधि से अनुपस्थित रहने वाले चिकित्सकों को चिन्हित कर नियमानुसार कार्यवाही करते हुए सेवा समाप्ति के लिए शासन को पत्र भेजा जाय।
जिलाधिकारी ने यह भी निर्देश दिया कि बाहर की दवा लिखने वाले चिकित्सकों को चिन्हित करें और यह सुनिश्चित करें की कोई भी चिकित्सक बाहर की दवा न लिखें। डीएम ने एम्बुलेन्स सेवाओं को शासन की मंशानुरूप संचालित कराने के साथ-साथ सीएमएस को निर्देश दिया कि चिकित्सालय में समुचित साफ-सफाई रखी जाय और सफाई कर्मियों की उपस्थिति भी सुनिश्चित करायी जाय। उन्होंने वित्तीय प्रगति को भी मानक के अनुसार लाये जाने तथा संचारी रोगों के लिए संवेदनशील ग्रामों में फागिंग एवं एण्टीलार्वा का छिड़काव कराये जाने का निर्देश दिया।    
जिलाधिकारी ने अपर पुलिस अधीक्षक नगर को निर्देश दिया कि आसन्न लोकसभा चुनाम के दृष्टिगत अपराधियांे को चिन्हित कर प्रभावी निरोधात्मक कार्यवाही सुनिश्चित करायें। अधि.अधि. न.पा.परि. बहराइच को निर्देश दिया गया कि एमएसडीपी योजनान्तर्गत नगर की स्थायी यातायात व्यवस्था के भूमि का चिन्हाॅकन कर कार्य योजना तैयार करें। अपर जिलाधिकारियों को निर्देश दिया गया कि नगर मजिस्ट्रेट, ई.ओ., डीएमओ व अन्य सम्बन्धित अधिकारियों के साथ अलग से बैठक कर प्रभावी कार्ययोजना तैयार करायें। 
बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने बताया कि समस्त एसडीएम को निर्देश दिये गये हैं कि प्रत्येक तहसील के 100-100 मतदान केन्द्रों को माॅडल मतदान केन्द्र के रूप में विकसित करें। इस सम्बन्ध में बीएसए को निर्देश दिया गया कि एसडीएम से समन्वय कर माॅडल मतदान केन्दों की स्थापना में सहयोग प्रदान करें। डीपीआरओ को निर्देश दिया गया कि सभी मतदान केन्द्रों पर वैकल्पिक प्रकाश की व्यवस्था सुनिश्चित करायें। 
जिलाधिकारी ने मुख्य विकास अधिकारी को निर्देश दिया कि डीआईओएस व पीडी डीआरडीए के साथ अल्पसंख्यक, समाज कल्याण व पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग अन्तर्गत संचालित छात्रवृत्ति योजना के आॅकड़ों का परीक्षण कर आख्या उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। पीडी डीआरडीए को निर्देश दिया गया कि खण्ड विकास अधिकारियों के साथ बैठक कर समाज कल्याण सेक्टर की योजनाओं के सत्यापन तथा निस्तारण के लिए अभियान संचालित करायें। साथ ही ऐसे सभी लाभार्थियों का सत्यापन भी कराया जाय जिन्हें बिना किसी सत्यापन के लाभ प्राप्त हो रहा है। सत्यापन में प्रतिकूल तथ्य सामने आने पर जिम्मेदारान के विरूद्ध कार्रवाई भी की जाय।

Post a Comment

0 Comments