यहां कारोबारी ने लूट की रची थी झूठी स्क्रिप्ट

बहराइच जिले में शहर स्थित थोक कारोबारी की बकाया धनराशि न देनी पड़े, इसके लिए कस्बाई कारोबारी ने लूट की झूठी स्क्रिप्ट रची थी, जो एक झटके में धराशाई हो गई। स्थलीय तहकीकात व कारोबारी से मनोवैज्ञानिक तरीके से की गई पूछताछ में इसका खुलासा हो गया। पुलिस ने झूठी सूचना रचने वाले कारोबारी पर शांति भंग के तहत कार्रवाई की है।

फखरपुर थाने के बहेलिया निवासी अंकित पाठक पुत्र आत्माराम पाठक फखरपुर कस्बे में चौराहे पर किराने की बड़ी दुकान है। अंकित पाठक ने गुरुवार को दोपहर टिकोरामोड़ पुलिस चौकी पर अपने साथ हुई लूट की तहरीर दी थी। कारोबारी अंकित के अनुसार गुरुवार को सुबह लगभग साढ़े दस बजे वह दुकान का सामान लाने को बाइक से शहर जा रहे थे। बहराइच- लखनऊ हाईवे के बसंतापुर के पास पल्सर सवार दो युवकों ने इशारे से रोका। दोनों युवकों ने उसके पास आकर बाइक में पेट्रोल खत्म होने की समस्या बताकर थोड़ा पेट्रोल मांगा। इसी दौरान युवकों ने उसके नाक पर हाथ रख दिया। जिससे अंकित बेहोशी हो गया। काफी देर बाद जब उसे होश आया तो बैग से 1.30 लाख की नकदी गायब मिली।

कारोबारी के मुताबिक उसने इसकी सूचना परिजनों को दी। इसके बाद टिकोरामोड़ पुलिस चौकी को जानकारी दी। कोतवाल अशोक कुमार सिंह ने मामले की तहकीकात शुरू की। उन्होंने कारोबारी से पूछा कि होश आने पर उसने यूपी डायल हंड्रेड को सूचना क्यों नहीं दी। होश आने पर भी पुलिस को देर से सूचना देने की क्या वजह है। इस पर उसने कई बार बयान बदले। कोतवाल व टिकोरामोड़ पुलिस चौकी प्रभारी विनोद कुमार पांडेय ने लूट की स्थलीय जांच की। वहां खेतों में काम कर रहे कई किसानों ने बताया कि वह सुबह नौ बजे से हैं। उन्होंने उस स्थान या आसपास कोई बाइक खड़ी या किसी युवक को बेहोश पड़ा नहीं देखा। मनोवैज्ञानिक ढंग से कारोबारी अंकित से पूछताछ की गई तो वह टूट गया।

उसने बताया कि उसने छावनी स्थित सीताराम एंड संस से लगभग दो लाख का सामान उधार लिया था। वह धन काफी समय से बकाया था। तकादा किया जा रहा था। धन की व्यवस्था नहीं हो पाए रही थी। जिस पर उसने यह प्लान रचा। उसके साथ लूट की वारदात नहीं हुई। उसने गलत तहरीर देकर उधार निस्तारण से बचाव का तात्कालिक उपाय किया था। कोतवाल अशोक कुमार सिंह ने बताया कि तहकीकात में झूठ का राजफाश हो गया। झूठी सूचना देने के मामले में आरोपी अंकित पाठक पर शांति भंग की कार्रवाई की गई है। उसे शुक्रवार को दोपहर एसडीएम कोर्ट पर पेश करने को भेजा गया है।
The news India 

Post a Comment

0 Comments