इस बार श्रावस्ती महोत्सव को यादगार बनाने की तैयारी है। महोत्सव में जहां लोक गायिका मालिनी अवस्थी लोक गीतों की छटा बिखेरेंगी, वहीं उदित नारायण भी अपने तराने छेड़ेंगे।जिले की बेटी राधा श्रीवास्तव व बाल कलाकार मैथिली ठाकुर भी अपनी आवाज का जलवा बिखेरेंगे। जिलाधिकारी दीपक मीणा ने बताया कि जिले की सांस्कृतिक, ऐतिहासिक एवं पुरातात्विक विरासत से लोगों को परिचित कराने के उद्देश्य से श्रावस्ती महोत्सव का आयोजन कराया जा रहा है।

जिले में श्रावस्ती महोत्सव का आयोजन 26 से 30 जनवरी तक किया जाएगा। महोत्सव में सरकारी योजनाओं का प्रचार-प्रसार तो होगा ही, साथ ही यहां की ऐतिहासिक, पौराणिक और सांस्कृतिक धरोहरों सहित स्थानीय कलाकारों से भी लोगों को रूबरू कराया जाएगा।

महोत्सव के पां
चों दिन कार्यक्रम आयोजित करने के लिए रूप रेखा तैयार की गई है। प्रतिदिन सुबह 11 बजे से शाम 6 बजे तक स्थानीय कार्यक्रम आयोजित होंगे।

26 जनवरी की शाम गायिका सोना जाधव की भजन संध्या एवं गणतंत्र दिवस के अवसर पर शहीदों पर आधारित कार्यक्रम प्रस्तुत होंगे।

27 जनवरी को कोहिनूर लांगा ग्रुप की ओर से नृत्य कार्यक्रम एवं मैथिली ठाकुर ग्रुप की ओर से गायन कार्यक्रम प्रस्तुत होगा।

28 जनवरी को मुशी प्रेमचंद्र पर नाटक, प्रख्यात कवियों की ओर से संगीत संध्या, सुरेश अलबेला की ओर से लाफ्टर शो एवं निजामी बंधु की ओर से कव्वाली प्रस्तुत की जाएगी।

29 जनवरी को सांस्कृतिक संध्या में मालिनी अवस्थी, राधा श्रीवास्तव अपनी आवाज का जादू बिखेरेंगी वहीं कवि सम्मेलन भी होगा। महोत्सव समापन पर 30 जनवरी को को गायक उदित नारायण व उनके ग्रुप की ओर से प्रस्तुती दी जाएगी।

उपलब्धियों को प्रदर्शित करें जिलेवासी
श्रावस्ती महोत्सव में विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद के सहयोग से स्टाल लगाए जाएंगे। इसमें जिले में शिक्षा, स्वास्थ्य, कृषि व मशीनीकरण में नवाचार अथवा नव प्रवर्तक करने वाले लोग अपनी उपलब्धियों को प्रस्तुत कर सकते हैं।

 श्रावस्ती महोत्सव को सकुशल संपन्न कराने के लिए डीएम की ओर से नोडल अधिकारी नामित किए गए हैं। इसमें जॉइंट मजिस्ट्रेट शिपू गिरि एवं उप जिलाधिकारी भिनगा (न्यायिक) मायाशंकर यादव को शामिल किया गया है।

Post a Comment

0 Comments