पोलियो करेक्टिव सर्जरी के लिए जनपद में आयोजित होंगे चिन्हाॅकन शिविर मीजिल्स रूबेला टीकाकरण के आयोजित किये जायें वृहद शिविर

 रिपोर्ट  इम्तियाज़ अहमद
बहराइच । सोमवार की देर शाम कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक के दौरान जिलाधिकारी माला श्रीवास्तव ने राजस्व कार्यो, चकबन्दी, आपूर्ति, गन्ना, खाद्य एवं विपणन विभाग अन्तर्गत संचालित योजनाओं की समीक्षा के दौरान पाया कि आबकारी, परिवहन, विद्युत, निकायों, मण्डी तथा स्टाम्प अत्यादि मदों की राजस्व वसूली की प्रगति संतोषजनक नहीं है। राजस्व वसूली में सुधार लाये जाने के लिए जिलाधिकारी आबकारी विभाग को निर्देश दिया कि वसूली की स्थिति में सुधार लाये जाने के प्रवर्तन कार्य को बढ़ायें तथा इंटेलिजेन्स को मज़बूत कर आबकरी के संगठित कारोबारियों पर कार्रवाई की जाये। जिलाधिकारी ने परिवहन, विद्युत, निकायों, मण्डी तथा स्टाम्प अत्यादि मदों की राजस्व वसूली की प्रगति संतोषजनक न पाये जाने पर जिलाधिकारी ने  सम्बन्धित विभागों को प्रवर्तन कार्य में तेज़ी लाये जाने का निर्देश दिया।
जन समस्याओं के निस्तारण की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने सभी उप जिलाधिकारियों को निर्देश दिया कि तहसील अन्तर्गत थानों पर आयोजित होने वाले समाधान दिवसों का औचक निरीक्षण करें और निस्तारित की गयी समस्याओं की गुणवत्ता को परखने के लिए सम्बन्धित फरियोदियों से दूरभाष पर बात भी करें। साथ ही आईजीआरएस अन्तर्गत प्राप्त सन्दर्भो का गुणवत्तापरक निस्तारण सुनिश्चित कराये जाने के उद्देश्य से निर्देश दिया गया कि निस्तारित सन्दर्भों की ग्रेडिंग कर, लो ग्रेडिंग के निस्तारणों की समीक्षा कर उन्हें रेण्डमली चेक भी किया जाय।
प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा/प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना की समीक्षा के दौरान समस्त उप जिलाधिकारियों को निर्देश दिया गया कि शीतकालीन भ्रमण के दौरान कैम्प आयोजित कर पात्र व्यक्तियों को आच्छादित करने के साथ-साथ योजनाओं का व्यापक प्रचार-प्रसार भी करायें। विभागीय कार्यवाही व लम्बित पेंशन प्रकरणों की समीक्षा के दौरान निर्देश दिया गया कि सभी जाॅच अधिकारी समयान्तर्गत अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करें। मुख्यमंत्री किसान एवं सर्वहित बीमा योजना की समीक्षा के दौरान पाया गया कि नोडल विभाग संस्थागत वित्त विभाग द्वारा समय से बैठक नहीं बुलायी गयी है इसके लिए सम्बन्धित विभाग को नोटिस करने का निर्देश दिया गया। समीक्षा के दौरान यह भी पाया गया कि 05 दावे लम्बित की स्थिति में है। निर्देश दिया गया कि सभी का निस्तारण समय से कराया जाय।
राजस्व अभिलेखों में दर्ज सार्वजनिक तालाबों को अतिक्रमणमुक्त कराने तथा उन्हें मूल स्वरूप में लाने से सम्बन्धित बिन्दु की समीक्षा के दौरान समस्त उपजिलाधिकारियों को निर्देश दिया गया कि सार्वजनिक तालाबों को अतिक्रमण से मुक्त कराकर मनेरगा योजनान्तर्गत उनके सौन्दर्यीकरण एवं पौधरोपण का कार्य कराया जाय। मा. उच्च न्यायालय में लम्बित रिट याचिकाओं में प्रतिशपथ-पत्र दाखिला कार्य की समीक्षा के दौरान ज्ञात हुआ कि कुल योजित 582 रिट याचिकाओं के विरूद्ध 551 में प्रतिशपथ-पत्र दाखिल किया जा चुका है। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि समय से प्रतिशपथ-पत्र दाखिला की कार्यवाही की जाये।
भू-राजस्व अधिनियम की धारा 33ए अन्तर्गत अविवादित वरासत दर्ज करने से सम्बन्धित बिन्दु की समीक्षा करते हुए समस्त उप जिलाधिकारियों को निर्देश दिया गया कि लेखपालों के माध्यम से हैसियत/वरासत प्रकरणों को आनलाइन कराकर व्यापक प्रचार-प्रसार भी कराया जाय। बैठक के दौरान खनिज निरीक्षक को निर्देश दिया कि एसडीएम से समन्वय स्थापित कर अवैध खनन से सम्बन्धित प्रकरणों में कठोर कार्यवाही की जाये।
जिलाधिकारी माला श्रीवास्तव ने निर्देश दिया कि आय, जाति एवं निवास इत्यादि प्रमाण-पत्रों को जारी करने में शासनादेश द्वारा दी गयी व्यवस्था का पालन सुनिश्चित कराया जाय। उन्होंने कहा कि ऐसे सभी प्रमाण-पत्र निर्धारित समयसीमा के अन्तर्गत जारी किये जाये ताकि अभ्यर्थियों को कोई दुशवारी न हो। उन्होंने यह भी सुझावा दिया कि ऐसे प्रमाण-पत्रों पर हस्ताक्षर करने वाले अधिकारी यदि अवकाश पर जाये ंतो इस कार्य की जिम्मेदारी अपने लिंक अफसर को सौंप कर उसे आईडी-पासवर्ड से सम्बन्धित जानकारी भी अवश्य उपलब्ध करा दें ताकि सम्बन्धित अधिकारी की अनुपस्थिति में भी यह कार्य कतई प्रभावित न हो।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी राहुल पाण्डेय, अपर जिलाधिकारी राम सुरेश वर्मा, अपर पुलिस अधीक्षक नगर अजय प्रताप, बन्दोबस्त अधिकारी चकबन्दी तेज प्रकाश सिंह, उप जिलाधिकारी नानपारा प्रभाष कुमार प्रशिक्षु आईएएस, सदर के ज़ुबेर बेग, कैसरगंज के पंकज कुमार, पयागपुर के डा. संतोष उपाध्याय, महसी के सिद्धार्थ यादव, अतिरिक्त मजिस्ट्रेट राजेश कुमार श्रीवास्तव व कंचन राम, अधि.अभि. विद्युत मुकेश बाबू, सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी  वीरेन्द्र सिंह, जिला आबकारी अधिकारी प्रगल्भ लवानिया, मण्डी सचिव सुभाष सिंह, अधि.अधि. न.पा.परि.बहराइच पवन कुमार सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी, तहसीलदार व कलेक्ट्रेट के पटल सहायक मौजूद रहे।

Post a Comment

0 Comments